Breaking News
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

महिलाओं को मेट्रो- DTC बसों में मुफ्त सफर की सौगात-केजरीवाल

दिल्ली में अगले साल की शुरुआत में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार बड़ा ऐलान करने जा रही है. दिल्ली सरकार महिलाओं को मेट्रो और डीटीसी बसों में फ्री यात्रा कराने का तोहफा देगी. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज (सोमवार) दोपहर 12:30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान करेंगे.

दिल्ली सरकार दिल्ली मेट्रो और डीटीसी बसों में महिलाओं को किराए से छुटकारा दिलाने के लिए नि:शुल्क यात्रा देगी, जिससे उन्हें सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित किया जा सके. महिलाओं को फ्री यात्रा देने में डीएमआरसी को होने वाले नुकसान की भरपाई दिल्ली सरकार करेगी.

बसों और मेट्रो में कुल यात्रियों में 33 फीसदी महिलाएं होती हैं. इसके मुताबिक मेट्रो में महिलाओं की मुफ्त यात्रा पर करीब एक हजार करोड़ प्रतिवर्ष का खर्च आएगा जबकि करीब 200 करोड़ रुपये का खर्च बसों को लेकर सरकार पर आएगा. अनुमान है कि महिलाओं के लिए दिल्ली मेट्रो और डीटीसी की बसों में इस योजना को लागू करने में सरकार पर प्रतिवर्ष करीब 1200 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा.

दिल्ली सरकार ने इस योजना को लागू करने के लिए दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के अधिकारियों के साथ बैठक की और उनसे पूछा है कि इस योजना को कैसे लागू किया जा सकता है. इसके लिए मुफ्त पास की व्यवस्था होगी या कोई अन्य विकल्प होगा.

बिजली के बिल का फिक्स्ड चार्ज घटाने पर विचार

बता दें कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को नई दिल्ली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए यह भी कहा कि उनकी सरकार बिजली बिल में फिक्स्ड चार्ज को घटाने के लिए शहर के विद्युत विनियामक के साथ बात कर रही है. मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि दिल्ली सरकार से परामर्श किए बगैर दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग (डीईआरसी) ने पिछले साल विद्युत शुल्क का फिक्स्ड चार्ज बढ़ा दिया था.

अरविंद केजरीवाल ने कहा, अगले महीने नया शुल्क निर्धारित किया जाना है. हमने डीईआरसी से फिक्स्ड चार्ज को पहले के स्तर पर लाने को कहा है. इस पर उनके राजी होने की उम्मीद है. गौरतलब है कि घरेलू उपभोक्ताओं के लिए मासिक फिक्स्ड चार्ज 2 किलोवाट तक के लिए 20 रुपये से बढ़ाकर 125 रुपये कर दिया गया. दिल्ली सरकार ऐसे उपभोक्ताओं को सब्सिडी मुहैया करती है.

हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 9 राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में 40 से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ा था, लेकिन उसे महज एक सीट पर ही जीत मिली है. इस चुनाव में झटका लगने के बाद पार्टी ने अगले साल होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव की तैयारी जोर शोर से शुरू कर दी है।

 

रिपोर्ट :~ विवेक कुमार श्रीवास्तव संपादक

About cmdnews

Check Also

बहराइच- जनरेटर है तो लेकिन खराब सालो से…. कैसे चले सामुदायिक अस्पताल नानपारा की व्यवस्था?

रिपोर्ट – विवेक श्रीवास्तव सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नानपारा में जनरेटेर सालो से खराब स्थित में …

Leave a Reply