Breaking News
Home / Uncategorized / BREAKING NEWS / बहराइच: विकास के लिए सरकार द्वारा दिए गए पैसों में मस्त मलाई काट रहे ग्राम प्रधानग्राम
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

बहराइच: विकास के लिए सरकार द्वारा दिए गए पैसों में मस्त मलाई काट रहे ग्राम प्रधानग्राम


01 सितंबर20 20

मिहींपुरवा ब्लाक संवाददाता महेश तिवारी की रिपोर्ट
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

उत्तर प्रदेश
बहराइच जिले
के तहसील व ब्लॉक मिहींपुरवा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सभा हरखापुर के विकास की गति कागज पर बहुत ही ज्यादा देखने को मिलेगी
एक नजर चित्र में बनी नवनिर्मित नाली पर गौर किया जाए चित्र में सबसे नीचे दिख रहा युवक भुट्टू पुत्र लल्लन हज्जाम का कहना है की इस नाली में 15 एक का मसाला लगाया गया है। नाली की पोजीशन ही सब कुछ बयां करने पर मजबूर है।
अगर मौके पर प्रधान द्वारा किए गए विकास को देखा जाए तो इसी प्रकार से विकास दिखाई पड़ेगा।
सरकार द्वारा दिया गया पैसा अगर विकास पर वर्तमान प्रधान खर्च किए होते तो गांव की रौनक कुछ और ही दिखती नजर आती
प्रधान को ग्राम विकास के नाम पर सरकार के द्वारा पर्याप्त धन प्राप्त होता है ।
ग्रामीणों का कहना है की प्रधान से विकास के बारे में अगर बात कही जाती है तो प्रधान ग्रामीणों से प्रतिउत्तर में यही कहते हैं की योगी बाबा हमें कुछ देते ही नहीं है हम कैसे गांव का विकास करें।
ग्राम सभा हरखापुर में सरकार द्वारा प्रधान को प्राप्त हुए धन से कराए गए कार्य की अगर जांच हो जाए तो यदा-कदा कार्य कराए गए दिखते नजर आएंगे
पीडीएफ में गौर किया जाए इन बिंदुओं पर जैसे
1,चिरौंजी बाजपेई के घर से लालाराम के घर तक नाली निर्माण लागत 1,95000एक लाख पन्चान्नबे हजार
2, हरखापुर में पुलिया से तारु महाराज के मंदिर तक नाली निर्माण 1,75000एक लाख पच्छत्तर हजार
उपरोक्त दोनों बिंदुओं पर मौके पर जांच किया जाए तो उक्त जगह पर नाली का कभी भी निर्माण हुआ ही नहीं
पीडीएफ में देखा जाए तो कूड़ादान पूरे ग्राम सभा में एक भी नहीं
इस प्रकार से पूरे पीडीएफ की जांच की जाए तो 30% ही कार्य कराए गए दिखाई पडे़ंगे
अगर 2016 से आज तक ग्राम सभा हरखापुर की जांच हो जाए तो करोड़ों का घोटाला प्रत्यक्ष होना तय है।
माननीय प्रधानमंत्री द्वारा दिए जा रहे प्रधानमंत्री आवास से पात्र लाभार्थी वंचित नजर आएंगे
पात्र लाभार्थियों से प्रधान द्वारा आज तक यही कहा गया कि तुम्हारा नाम लिस्ट में है ही नहीं
जबकि अगर मौके पर बने आवास देखे जाए तो ज्यादातर लिस्ट में नाम ना होने वाले ही आवास प्राप्त किए हुए मिलेंगे आज भी ग्रामसभा हरखापुर में तमाम गरीब आवास विहीन हैं बेचारे इतने गरीब लाचार हैं की खेती योग्य उनके पास एक बिस्वा जमीन भी नहीं है केवल किसी प्रकार से मेहनत मजदूरी करके अपना जीवन यापन कर रहे हैं उन लोगों को आज तक प्रधान द्वारा आवास से वंचित रखा गया।
भू माफियाओं से कब्जे की जमीन को उत्तर प्रदेश वर्तमान सरकार ने बनते ही आदेशित कर दिया था की भू माफियाओं के कब्जे से जमीन छुड़ाई जाए
परंतु हरखापुर ग्राम सभा में भू माफियाओं के ऊपर कोई कार्यवाही हुई ही नहीं सभी भू माफिया ग्रामसभा जमीन पर अभी भी कब्जा किए खेती कर रहे हैं।
प्रधान द्वारा कई बीघा जमीन ₹20,000 बिस्वा में दूसरे आदमी को लगाकर बिक्री भी कर दिया गया है।
इसलिए सरकार को चाहिए हरखापुर में शुरुआती दौर से आज तक सरकार द्वारा दिए गए धन का जांच करा लिया जाए
और भू माफियाओं के कब्जे से ग्राम समाज की सारी जमीन को आजाद करा दिया जाए
इन सभी बिंदुओं पर माननीय जिला अधिकारी महोदय जी को ध्यान देना होगा
कि अगर ग्रामसभा हरखापुर की जांच होती है तो सरकार द्वारा ग्राम विकास के लिए दिए गए धन का खुलासा हो जाएगा जनता जान जाएगी की सरकार ग्राम सभा को विकास के लिए पैसा दे रही थी या नहीं
या प्रधान सरकार द्वारा दिए गए धन के बावजूद विकास नहीं करवा रहे थे।

About CMD NEWS UP

Check Also

दा हेल्पिंग हैण्ड संस्था कतर्नियाघाट मे वन्य जीव संघर्ष रोकने के साथ महिलाओं को बनायेगी स्वावलम्बी

रिपोर्ट- विवेक श्रीवास्तव कार्यालय संस्थापक ने एफडी से मुलाकात कर कतर्नियाघाट में कार्य करने पर …

Leave a Reply