Breaking News
Home / Uncategorized / BREAKING NEWS / नोडल अधिकारी ने किया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोतीपुर का निरीक्षण
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

नोडल अधिकारी ने किया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोतीपुर का निरीक्षण

जिला ब्यूरो मनोज अवस्थी की रिपोर्ट


बहराइच -तहसील मिहींपुरवा (मोतीपुर) में बाढ़ राहत और बचाव कार्यों की समीक्षा को लेकर कोविड-19 एवं बाढ़ राहत कार्य के अनुसरण हेतु शासन द्वारा नामित नोडल अधिकारी विशेष सचिव, पंचायती, राज उत्तर प्रदेश शासन राकेश कुमार ने नान कोविड-19 स्वास्थ्य केंद्र मोतीपुर का निरीक्षण कर विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा मौके पर मौजूद अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। तहसील क्षेत्र में मिहीपुरवा (मोतीपुर) के भ्रमण के दौरान नोडल अधिकारी ने तहसील मोतीपुर अंतर्गत बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में संचालित बचाव एवं राहत कार्यो की भी समीक्षा की बाढ़ राहत व बचाव कार्यों की समीक्षा के दौरान उप जिला अधिकारी मिहींपुरवा (मोतीपुर) ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि तहसील अंतर्गत 106 राजस्व गांव बाढ़ के चपेट में हैं। वर्तमान में 14 राजस्व गांव बाढ़ से प्रभावित हैं।श्री त्रिपाठी ने बताया कि बाढ़ कटान अतिवृष्टि से प्रभावित तीन राजस्व गांव के 1414 प्रभावित परिवारों को राहत सामग्री तथा 80 लोगों को तारपोलिंग सीट उपलब्ध कराई जा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रभावित क्षेत्रों में 500 पैकेट ओ आर यस व 400 क्लोरीन टेबलेट का वितरण किया जा चुका है। उप जिला अधिकारी श्री त्रिपाठी ने यह भी बताया कि बाढ़ कटान अतिवृष्टि से प्रभावित 8 ग्रामों के 160 परिवारों को अनुदान की धनराशि 6 लाख 21हजार का भुगतान किए जाने हेतु कार्यवाही अंतिम चरण में है। उप जिला अधिकारी ने बताया कि प्रभावित हुए कृषि भूमि योग परिवारों को हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि तहसील अंतर्गत कुल 19 बाढ़ चौकियां संचालित हैं। बाढ़ प्रभावित हेतु कुल 72 नावें उपलब्ध हैं। (60) निजी, 12 ग्राम पंचायतों की और 24 गोताखोरों की व्यवस्था है। तहसील अंतर्गत बाढ़ से प्रभावित होने वाले 106 गांव घाघरा एवं सरजू दोनों नदियों से प्रभावित होते हैं। नोडल अधिकारी श्री कुमार ने उप जिला अधिकारी को निर्देश दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के सभी प्रभावित जरूरतमंद लोगों को राहत सामग्री उपलब्ध कराएं वितरण स्थल पर साफ सफाई के साथ सैनिटाइजर का भी विशेष ध्यान रखा जाए श्री कुमार ने कहा कि राहत सामग्री के वितरण करते समय लगाए गए अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ-साथ बाढ़ प्रभावित लोगों द्वारा भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाए। और सभी संबंधित लोग अनिवार्य रूप से मास्क भी पहने नोडल अधिकारी ने यह भी निर्देश दिए कि बाढ़ राहत व बचाव कार्य में लगे हुए अधिकारी निरंतर भ्रमण सील रहकर स्थित पर सतर्क दृष्टि बनाए रखें तथा लोगों की हर संभव मदद की जाए।नान कोविड-19 स्वास्थ्य केंद्र मोतीपुर के निरीक्षण के दौरान नोडल अधिकारी ने कोविड-हेल्प डेस्क एवं अन्य कोविड-19 संबंधी आवश्यक व्यवस्थाओं का सघन निरीक्षण किया। मौके पर मौजूद एमओआईसी डॉ आर एन वर्मा ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अंतर्गत कोविड स्क्रीनिंग एवं सेंपलिंग का कार्य किया जा रहा है। डॉक्टर वर्मा ने बताया कि सीएचसी मोतीपुर अंतर्गत वर्तमान में कुल 78 संक्रमित व्यक्ति पाए गए हैं। जिसमें 57 की रिपोर्ट नेगेटिव पाए जाने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। 21 मरीज सक्रिय हैं। जिसमें से 15 मरीज एल- 1 तथा 02 मरीज एल- 2 हॉस्पिटल में हैं। जबकि 4 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। नान कोविड-19 स्वास्थ्य केंद्र मोतीपुर के निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई तथा सैनिटाइजेशन का कार्य संतोषजनक पाया गया। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि अपने को सुरक्षित रखते हुए पी पी किड पहनकर ही हॉस्पिटल में प्रवेश करें प्रतिदिन परिसर की साफ-सफाई एवं सैनिटाइजर कराएं समस्त मरीजों अधिकारियों/ कर्मचारियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग सुनिश्चित किया जाए। साथ ही समस्त मरीजों एवं अधिकारियों/ कर्मचारियों को नियमित पल्स ऑक्सीमीटर एवं इंफ्रारेड थर्मामीटर द्वारा नियमित रूप से जांच की जाए। और सैनिटाइजर का प्रयोग किया जाए। तथा जांच में यदि किसी में कोई लक्षण पाया जाता है। तो तत्काल उसकी सैंपलिंग कर उपचार सुनिश्चित किया जाए निरीक्षण के समय नोडल अधिकारी के लाइजन ऑफीसर पंकज शर्मा भी मौजूद रहे।

About CMD NEWS UP

Check Also

अयोध्या: धड़ल्ले से कोटेदार कर रहे घटतौली, कोटेदार के रवैए से जनता त्रस्त! 

राशन घटतौली का मामला आया सामने   7यूनिट की जगह कार्ड धारकों को मिल रहा …

Leave a Reply