Breaking News
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

बहराइच UP: बेलगाम हुये नौकर शाह, रोजगार गारंटी योजना हुआ फ्लाप

गाँवों के मनरेगा मजदूर भुखमरी के कगार पर।

ठेकेदारी पर हो रहा है मनरेगा कार्य

दूसरे गांव के मजदूरों से सिकरेट्री का मुंशी कराता मिला तालाब का काम।

UPबहराइच-भारत में कोरोना वैश्विक महामारी के कारण देशव्यापी लॉकडाउन चल रहा है।बड़े बड़े उद्योग धंधे बंद हो गए हैं।पूरे देश में काम काज ठप्प हो गये हैं।मज़दूरों की बड़ी संख्या शहरों से पलायन कर अपने घरों को लौट रहे हैं।केंद्र व प्रदेश सरकार के जरिये गरीब मज़दूरों को राहत प्रदान करने के लिए कई प्रकार की योजनाये चलाई जा रही हैं।परंतु विकास खण्ड नवाबगंज के कई ग्राम पंचायतो में मनरेगा के तहत काम न मिलने के कारण गाँव के गरीब मजदूर भुखमरी के कगार पर पहुंच गये हैं।

UUJसार्वजनिक वितरण प्रणाली में पहले से कुछ सुधार हुआ है।फिर भी बेलगाम भ्रष्ट नौकरशाही हावी है जिसके चलते गरीब मजदूरो को उनका हक नहीं मिल पा रहा है।तहसीलों व ब्लाक स्तर पर मनरेगा योजना के तहत काम कराए जा रहे हैं।मनरेगा की मजदूरी सरकार ने 182 से बढ़ा कर 202 रुपये कर दी है।विकास खण्ड नवाबगंज क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम पंचायत गोकुलपुर में कई बड़े मामले सामने आये हैं।यहाँ पिछले लगभग 15 दिनों से सड़क की पटाई व तालाबो की खुदाई तथा सुंदरीकरण का काम चल रहा है।यहां के मजदूर ग्रामीणों की शिकायत है कि बाहर से आयातित मज़दूरों द्वारा काम करवाया जा रहा है।हम ग्रामीणों को काम पर नहीं लगाया जा रहा है।इस सम्बन्ध मे पंचायत सदस्य दाता राम यादव सहित कई पंचो ने इसकी सूचना ब्लाक के सक्षम अधिकारियों को दी,परंतु कोई कार्यवाही नहीं हुई।पत्रकारों की एक टीम जब सच्चाई का पता लगाने के लिए गोकुलपुर गाँव पहुंची तो तमाम ग्रामीणों ने एक साथ बताया कि यहाँ पर हम लोग
भूखे मर रहे हैं।और हम लोगों को काम नही दिया जा रहा है।बड़ी संख्या में महिलाओं तथा पुरुषों ने कहा कि ग्राम प्रधान महिला है।उसका पति दिवंगत हो चुका है।जब पत्रकारों ने ग्राम प्रधान से सम्पर्क साधने की कोशिश की तो पता चला कि वह पशु चराने गयी हुई हैं।घर पर ताला लगा हुआ था।ग्रामीणों ने बताया कि सेक्रेटरी ने प्रधान का सारा काम काज अपने हाठों मे ले रखा है।ग्रामीणों ने बताया कि गांव की मुख सड़कों पर हमेशा पानी व कीचड़ भरा रहता।जिससे ग्रामीणो काफी दिक्कतों का सामना पड़ता हैं। यह सड़क अभी तक ठीक नहीं कराई गयीं हैं।तालाबों में काम कर रहे मज़दूरों से जब पत्रकारों ने जानकारी हासिल की तो पता चला कि सभी 12 व 13 मज़दूर ग्राम पंचायत मकनपुर से आये हैं। तलाब खुदाई स्थल पर मौजूद एक मुंशी की देख रेख में काम काज किया जा रहा था जो मज़दूरों को देख रहा था।उसने बताया कि सेक्रेटरी के कहने से मैं यहाँ पर मौजूद हूँ और मेरे देखरेख पर काम हो रहा है इस काम को बाबागंज का एक ठेकेदार करवा रहा है। रिपोर्ट: एम असरार सिद्दीकी

About cmdnews

Check Also

मवई अयोध्या – संदिग्ध परिस्थितियों में अधेड़ का हाईवे के किनारे जंगल में पेड़ से लटका मिला शव

मुदस्सिर हुसैन CMD NEWS अयोध्या 11 जून – राम सनेही घाट के अधेड़ का पटरंगा …

Leave a Reply