Breaking News
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

हरे पेड़ों की हो रही अंधाधुंध कटाई, अधिकारी नहीं कर रहे कोई कार्रवाई।

हरे पेड़ों की हो रही अंधाधुंध कटाई, अधिकारी नहीं कर रहे कोई कार्रवाई

एम.असरार सिद्दीकी
बहराइच। वन विभाग की लापरवाही के चलते क्षेत्र में धड़ल्ले से हरे पेड़ों की कटाई की जा रही है। इसके बाद भी विभाग वन माफियाओं पर शिकंजा नहीं कस पा रहा है। प्रशासन भी इस तरफ अनदेखी कर रहा है। जबकि हर वर्ष सरकार व प्रशासन हरियाली को बढ़ावा देने के लिए पौधरोपण अभियान चलाता है। इस पर सरकार द्वारा करोड़ों रुपए खर्च किए जाते हैं, विभिन्न संस्थाएं भी लगातार जागरूक करते हुए पौधरोपण कर रही हैं, जिससे हमारा क्षेत्र व देश हरा भरा रहे, और प्रकृति संरक्षण का सपना साकार हो सके। जबकि उसकी सुरक्षा को लेकर संबंधित विभाग ही लापरवाही बरतते हैं।

आप को बताते चलें कि रुपैड़िहा थाना व वनरेंज क्षेत्र में हरे व स्वस्थ आम के पेड़ों की अंधाधुंध कटाई की जा रही है। सबसे खास बात तो ये है कि बाबागंज पुलिस चौकी के पीछे मात्र एक किलोमीटर दूरी पर स्थिति ग्राम विशुनापुर डामर रोड किनारे बाग में अवैध पेड़ों की कटान धड़ल्ले से जारी है। मौके पर पहुँचे मीडिया कर्मियों ने जब हरे आम के स्वस्थ पेड़ों का अवैध कटान करवा रहे लोगों से कटान प्रमीशन के बारे जानकारी लेनी चाही तो एक व्यक्ति (ठेकेदार) द्वारा मात्र बीस पेड़ों की कटान परमिट ही दिखाया गया। लेकिन मौके पर उक्त बाग में कटान परमिट बीस पेड़ों के अलावा, कई पेड़ों की कटान कराये जा चुके थे। अब ऐसे में उक्त हरे भरे आम के स्वस्थ पेड़ों का वन विभाग काटने का प्रमीशन कैसे जारी कर देता है, जिससे वन विभाग व जिम्मेदार पर सवाल उठना लाजमी है।वन माफियाओं पर रोकथाम नहीं होने से आज दूर तक क्षेत्र वीरान नजर आता है। जानकारी के अनुसार भू-राजस्व संहिता 1959 की धारा 240 के अनुसार किसी के घर, आसपास अथवा सार्वजनिक परिसर में कोई हरा पेड है तो उसे काटने के लिए सक्षम अधिकारी से अनुमति आवश्यक है। उल्लंघन पर भू-राजस्व संहिता 253 के तहत जुर्माने का प्रावधान है। वर्तमान में उक्त कानून में संशोधन करते हुए प्रति प्रकरण 50 हजार का जुर्माना भी तय किया गया है।

पर्यावरण की बेहतरी की दिशा में कोर्ट का यह फैसला उन लोगों के लिए चेतावनी है जो आए दिन पेड़ काटने की गलती कर बड़ा जुर्म कर रहे हैं। रात दिन कस्बे के हाइवे सहित अन्य सड़कों से हरे स्वस्थ पेड़ों की लकडिय़ों को ट्रैक्टर ट्रॉली से लादकर खुलेआम आरा मशीनों तक पहुंचा रहे हैं। इस बाबत जब वह रेंज अधिकारी रुपैड़िहा से सम्पर्क करने की कोशिश की गयी तो उनका फोन रिसीव नही हुआ वहीं प्रभारी वनाधिकारी बहराइच मनीष सिंह से बात होने पर बताया गया कि हम जांच करवा रहे हैं। और दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही का आश्वासन दिया।

About CMD NEWS

Check Also

हमारा आंगन हमारे बच्चे कार्यक्रम बी आर सी म्याऊँ पर संपन्न।

रिपोर्ट  हरि शरण शर्मा व्यूरोचीफ़ हमारा आंगन हमारे बच्चे कार्यक्रम बी आर सी म्याऊँ पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *