Breaking News
Home / Uncategorized / मा0 मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावितों से मिलकर जाना हाल, प्रदान की राहत किट बाढ़ प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराने के निर्देश
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

मा0 मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावितों से मिलकर जाना हाल, प्रदान की राहत किट बाढ़ प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराने के निर्देश

03.09.2021 गोंडा

सुनील तिवारी सी एम डी न्यूज


शुक्रवार को प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र तहसील तरबगंज अन्तर्गत ग्राम बाबा मठिया बरौली पहुुंचकर बाढ़ प्रभावितों को राहत किट का वितरण किया तथा उनसे संवाद कर जिला प्रशासन द्वारा पहुंचाए जा रहे राहत कार्यों के बारे में जानकारी ली। अपरान्ह साढ़े तीन बढ़े राजकीय हेलीकाप्टर से बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने के उपरान्त मा0 मुख्यमंत्री जी बाबा मठिया बरौली पहुंचे। वहां पर सबसे पहले उन्होंने बाढ़ प्रभावितों से भेंट की तथा राहत किट का वितरण किया। प्रभावितों के साथ संवाद के दौरान उन्होंने बाढ़ की स्थिति तथा जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे राहत कार्यों के बारे में गहन पूछताछ की। इसके बाद उनके द्वारा अधिकारियों एवं माननीय जनप्रतिनिधियों के साथ समीक्षा बैठक कर बाढ़ की स्थिति के बारे में जानकारी ली।
इसके बाद मा0 मुख्यमंत्री ने मीडिया बीफ्रिंग के दौरान कहा कि प्रदेश के 15 जनपद बाढ़ से प्रभावित हैं तथा वर्तमान मानसून सत्र में तीसरी बार प्रदेश के विभिन्न जनपदों को बाढ़ का सामना करना पड़ रहा है। नेपाल से आने वाली नदियों के कारण वर्तमान में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हुई है, परन्तु विगत वर्ष की तुलना में बारिश अधिक होने के बावजूद इस वर्ष बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रफल में कमी आई है। गोण्डा के संवेदनशील क्षेत्रों में ड्रेजिंग के बाद नदी को चैनेलाइज करने तथा कटान रोधक कार्यों को गुणवत्ता के साथ समय पर पूरा किया गया जिसके कारण काफी हद तक बाढ़ की विभीषिका से बचत हुई है।
जनपद गोण्डा में बाढ़ की स्थिति के बारे में उन्होंने कहा कि 10 राजस्व गांव बाढ़ से प्रभावित हुए हैं जिनमें से 07 ग्राम पूरी तरह मैरूण्ड हैं। जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे राहत एवं बचाव कार्यों पर संतोष व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं जिला प्रशासन के संयुक्त प्रयासों से प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराई जा रही है। इसके अलावा बचाव व राहत कार्य के लिए आवश्यकतानुसार एनडीआएफ, एसडीआरएफ तथा पीएसी की फ्लड युनिट एवं बचाव के सभी संभावति उपायों को सुनिश्चित कराया गया है। राहत एवं बचाव कार्य के लिए पर्याप्त मात्रा में नौकाओं की व्यवस्वस्था सुनिश्चित कराने के साथ ही राहत सामग्री के रूप में हर एक पीड़ित परिवार के लिए पर्याप्त मात्रा में प्रबन्ध कराया गया है।
बरसात के समय में जलभराव वाले क्षेत्रों में सर्पदंश, सिआर, कुत्ता तथा अन्य जंगली जानवरों के काटने की प्रबल संभावनाओं के दृष्टिगत सर्पदंश व रैबीज के इंजेक्शन की उपलब्धता पर्याप्त मात्रा में सुनिश्चित कराई गई है जिससे किसी भी व्यक्ति की असमय मृत्यु न हो। उन्होंने जिला प्र्रशासन को निर्देशित किया कि जलजमाव के कारण प्रभावित हुई फसल का सर्वे कराकर किसानों को उचित मुआवजा दिलाया जाय। उन्होंने कहा कि जैसे ही बाढ़ का पानी कम होगा, तुरन्त ही संक्राकम रोगों के फैलने का खतरा उत्पन्न होगा। इससे बचाव को लेकर पूरे प्रदेश में आगामी 05 सितंबर से 12 सितम्बर तक एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है जिसमें स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, फागिंग का कार्य कराया जाएगा। इस अभियान में स्वास्थ्य विभाग, पंचायती राज विभाग, बेसिक शिक्षा, महिला कल्याण तथा सभी नगर निकायों को जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। उन्होंने इस अभियान के तहत डेंगू, मलेरिया, इन्सेफलाइटिस या डायरिया आदि किसी भी बीमारी से निपटने के लिए समय पूर्व उपाय एवं जागरूकता का व्यापक अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा किसी भी व्यक्ति की सर्पदंश या किसी भी हिंसक जानवर के काटने से मृत्यु पर 04 लाख रूपए की आर्थिक सहायता तत्काल दी जा रही है। कृषक दुर्घटना बीमा योजना के तहत भी किसी भी किसान की आकस्मिक मुत्यु पर 05 लाख रूपए का स्वास्थ्य बीमा कवर दिया जा रहा है। बाढ़ या अतिवृष्टि के कारण मकान क्षतिग्रस्त होने पर पीड़ित को 95 हजार रूपए तथा आंशिक क्षतिगस्त होने पर भी आर्थिक सहायता मुहैया कराई जा रही है। नदी की धारा की चपेट में जिन व्यक्तियों के मकान आ गए हैं, उन्हें मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत आच्छादित किया जा रहा है। उन्होंने आहवान किया कि आगामी 05 सितंबर से शुरू हो रहे विषेष अभियान में सभी जनप्रतिनिधिगण व अधिकारीगण व्यापक प्रचार प्रसार कराते हुए प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराएगें।
इस दौरान सांसद कैसरगंज बृजभूषण शरण सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष घनश्याम मिश्र, विधायक सदर प्रतीक भूषण सिंह, विधायक तरबगंज प्रेम नारायण पाण्डेय, विधायक गौरा प्रभात वर्मा, जिलाध्यक्ष अमर किशोर कश्यप बमबम, आयुक्त देवीपाटन मण्डल एसवीएस रंगाराव, आईजी डा0 राकेश सिंह, डीएम मार्कण्डेय शाही, एसपी संतोष कुमार मिश्र, सीडीओ शशांक त्रिपाठी, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सूरज पटेल, एडीएम राकेश सिंह, एसडीएम तरबगंज राजेश कुमार, शारदाकान्त पाण्डेय सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा अधिकारीगण एवं लाभार्थी व अन्य उपस्थित रहे।

About Sunil Kumar Tiwari

Check Also

Uppsc RO/ARO hindi set 2024

DocScanner 11-Feb-2024 7-30 pm 11 फरवरी 2024 को यूपीपीएससी आर ओ/ ए आर ओ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *