Home / Uncategorized / BREAKING NEWS / नानपारा बहराइच- लगभग 10 किलोमीटर दूर लग्गी से पानी पिला रहे हैं अमवा हुसैनपुर के प्रभारी
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

नानपारा बहराइच- लगभग 10 किलोमीटर दूर लग्गी से पानी पिला रहे हैं अमवा हुसैनपुर के प्रभारी

डॉक्टर फार्मेसिस्ट वार्ड ब्याय स्टाफ नर्स निभा रहे एक दूसरे की जिम्मेदारी, लाखो का आवास बेकार,नदारद

कई किलोमीटर में बसे कई गाँव के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी उठाने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमवा हुसैनपुर की ओ.पी.डी एक ओर जहां फार्मेसिस्ट छोटे खान के सहारे चल रही है वही प्रसव के लेबर रूम की जिम्मेदारी स्टाफ नर्स अनीता देवी के सहारे चल रही है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमवा हुसैनपुर में वर्षो से तैनात डॉक्टर सोलंकी हैं मगर वह केंद्र पर बैठते नहीं है। वह अपना कार्य नानपारा कोतवाली के सामने स्थित पूर्व महिला चिकित्सालय जो चिकित्सकों की आवास कॉलोनी है वहां से चलता है सभी प्रकार की मीटिंग व अन्य अधिकाधिक सरकारी कार्यों का निपटारा पूर्व महिला चिकित्सालय से किया जाता है क्योकि नानपारा नगर से लगभग छः किलो मीटर की दूरी पर प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र अमवा हुसैनपुर स्थित है इतनी दूर जाने की जहमत डॉक्टर नही उठाना चाहते, नगर से क्षेत्र में कोविड टीकाकरण की स्थिति यदि देखी जाए तो कच्छप गति से चल रही है कागजों व प्राप्त जानकारी अनुसार 10 स्वास्थ्य कल्याण केंद्र पर प्रतिदिन टीकाकरण होता है लेकिन भौतिक स्थिति बिल्कुल अलग है पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमवा हुसैनपुर में कोविड वैक्सिनेशन की स्थिति देखी गई मौके पर देख कर अचंभित होने वाला नजारा था फार्मेसिस्ट छोटे खान डाक्टर की जिम्मेदारी निभा रहे थे तो फार्मेसिस्ट की जिम्मेदारी वार्ड बॉय राम सागर निभा रहे थे फार्मेसिस्ट छोटे खान ओपीडी में मरीज देख रहे थे वही वार्ड ब्याय रामसागर दवा देने का काम कर रहे थे और गर्भवती महिलाओ के स्वास्थ के लिए अनेको सुविधाओ से नवाजे जा रहे सरकारी अस्पताल में स्टाफ नर्स अनीता लेबर रूम में थी, अधीक्षक डॉ संजय सोलंकी केंद्र से नदारद थे फार्मेसिस्ट छोटे खान ने बताया कि डॉक्टर साहब कुछ काम से गए है कोरोना टीकाकरण नहीं हो रहा था लेबर रूम में जहां भरपूर गंदगी दिखी है तो वहीं अस्पताल के वार्डों में चारपाई पर ना तो चादर है और सफाई वहीं वार्ड में डस्टविन की जगह एक ड्रम रखा हुआ था जो लापरवाही को दर्शाता है स्टाफ नर्स अनीता ने बताया सामान्य प्रसव तो यहां किसी प्रकार करा लेती है मगर गंभीर मरीजों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नानपारा भेज दिया जाता है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमवा हुसैनपुर में मरीज के पानी पीने के लिए बाहर एक इंडिया मार्का लगा हुआ है वही परिसर में एक घरेलू आर ओ करीब 6 फिट पर लगा है जहां पर न तो गिलास न ही जग, डॉक्टर के ड्यूटी कमरे के बाहर बरामदे में मोटरसाइकिल खड़ी मिली। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमवा हुसैनपुर के भवन के सामने लाखो की लागत से बनी चिकित्सकों की आवास कॉलोनी बनी है जो देखरेख के अभाव में धीरे-धीरे जर्जर होती जा रही है और बड़े बड़े घास लगे है देखने से प्रतीत होता है की कई सालों से सफाई नही कराई गयी है कॉलोनी के गेट पर ताला लगा दिया गया है और कॉलोनी में लगा इण्डिया मार्का नल का हत्था भी गायब है गायब होना भी मामूली सी बात है क्योकि कॉलोनी में एक भी कर्मचारी निवास नहीं करता।
इस संबंध में ग्राम प्रधान अमवा हुसैनपुर आरती वर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि अस्पताल में कोई डॉक्टर नही रहते है कंपाउंडर दवा देता है कोरोना की सुई भी हफ्ता दो हफ्ता में लग जाता है।
ग्रामवासी कहते है अस्पताल में दवा नही मिलती है कहते है दवा नही है न ही जाँच होती है कहते हैं स्वास्थ्य कर्मियों आवास में न रहने के कारण अस्पताल में कुछ स्वास्थ्य कर्मी देर से आते हैं कुछ तो आते ही नही, अस्पताल में खाली पड़ी जमीन पर मौसम अनुसार खाने वाली चीजो की बुवाई होती है।

रिपोर्ट- विवेक कुमार श्रीवास्तव संपादक

About cmdnews

Check Also

SLOT DEPOSIT DANA MENAWARKAN BERBAGAI MACAM TEMA DAN FITUR BONUS

Selain itu, Situs Slot Deposit Dana juga menawarkan berbagai macam tema dan fitur bonus menarik …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *