Breaking News
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

मिशन शक्ति नारी सुरक्षा नारी सम्मान कार्यक्रम हुआ आयोजित।





ब्यूरो रिपोर्ट- एम.असरार सिद्दीकी।

बहराइच- थाना दरगाह शरीफ में मिशन शक्ति नारी सुरक्षा नारी सम्मान का शुभारंभ हुआ इस कार्यक्रम में बहराइच पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार मिश्रा एवं सदर विधायक अनुपमा जयसवाल मुख्य अतिथि रहे।सदर विधायक अनुपमा जायसवाल ने बताया नारी का सम्मान बहुत ऊंचा है भारत के नाम के आगे भी माता लगता है। अन्य देशों के नाम के आगे माता नहीं है। उन्होंने यह भी बताया नारी वह है जो सब चीज में आत्मनिर्भर है नारी नहीं तो हम नहीं एक मां को क्या कुछ नहीं करना पड़ता अपने बेटे को छोटे से बड़ा करना किसी तरह की उस पर आज ना आने देना उन्होंने यह बताया दोस्त किसे कहते हैं दोस्त वह होता है जो बुरी प्रस्तुति में काम आए राज को राज रखें ऐसे ही एक नारी की मिसाल देते हुए बताया कि एक पत्नी से उसका पति का झगड़ा होता है। रात में आंख पर उसके पति ने मारा आंख लाल हो गई सुबह उठी किसी ने पूछा बहन क्या हुआ तो वह बताती है। कुछ नहीं रात में अंधेरा था दरवाजे में लड़ गई। यह है नारी और हमारे देश में नारी को बहुत सम्मान दिया जाता है उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नारी को आगे रखना चाह रहे हैं और नारी को बढ़ावा दे रहे हैं आज पूरे भारत में महिला के नाम राशन कार्ड बनता है। महिला के नाम गांव में प्रधानमंत्री आवास मिलता इन्हीं सब कार्यों से नारी को और सम्मान दिया जा रहा है। एक मां अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के लिए अपने जेवर तक बेच देती है । और नारी की मिसाल देते हुए रानी लक्ष्मीबाई का भी जिक्र किया कि उन्होंने अंग्रेजों के छक्के छुड़ाए। उन्होंने यह भी कहा कि मैं भी एक मां हूं मैं भी अपने बच्चों को भविष्य अच्छा बनाना चाहती हूं कोई मजे नहीं चाहेगी कि मुझे बच्चों का भविष्य खराब मगर उनको संस्कार देना हमारा ही फर्ज है। अगर देर रात में बेटी घर आती है तो हम पूछते हैं बेटी तुम इतनी देर कहां थे वैसे ही मेरा हमारा और आपका फर्ज बनता है कि अगर बेटा देर रात घर आए उससे भी यही सवाल किया ताकि उसे और उसके मन में यह डर है कि अगर हम जाएंगे देर में तो मां हमारी गुस्सा हो और मुझसे सवाल किया जाए इस डर की वजह से अगर कोई गलत संगत के साथ में रहेगा सौ बार सोचेगा।



नारी शक्ति को लेकर बहराइच पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार मिश्रा ने भी अपनी बात को महिलाओं के बीच रखी। कहा नारी वह शक्ति है सब कुछ कर सकती उन्होंने अपनी मां की भी बात बताई वह बहुत सख्त थी अपने नियम कानून का पालन करते थी उन्होंने बताया अगर सूर्यास्त होने से पहले अगर हम दो भाई घर न वापस आते तो बहुत मार पड़ती थी। इस डरने हमें सूर्यास्त से पहले घर पहुंचने दिया। उन्होंने यह भी बताया कि अगर कोई थाना इंचार्ज आरक्षी आपकी बात नहीं सुनता है तो आप फौरन मेरे पास फोन मिलाइए मैं उसके पर कार्रवाई करूंगा। दरगाह थाना की तरफ से कार्ड जारी किया गया है जिसके ऊपर हेल्पलाइन नंबर है जिस पर अपनी समस्या बता सकते हैं। उस पर महिला से संबंधित लैंगिक अपराधों के लिए कानूनी धाराएं भी लिखी गई है।

About CMD NEWS

Check Also

बदायूं- पुरस्कार पाकर खिले बच्चों के चेहरे

बदायूँ 18/05/2024 विकास खण्ड म्याऊ के प्राथमिक विद्यालय ग्योती धर्मपुर में ग्रीष्मावकाश के पूर्व दिवस …

Leave a Reply