Breaking News
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

आर्थिक समस्या से जूझ रहा है बहराइच का शिक्षामित्र जिले के खंड शिक्षा अधिकारियों के लापरवाही से नहीं मिल रहा मानदेय।

जिलाअधिकारी व बीएसए को अवगत कराने के बाद भी नहीं हो रहा समस्या का निराकरण।

रिपोर्ट- एम.असरार सिद्दीकी।
बहराइच:-जनपद बहराइच में सर्व शिक्षा अभियान के अन्तर्गत 2998 शिक्षामित्र कार्यरत हैं जिन्हें मई माह के बाद मानदेय के नाम पर फूटी कौड़ी नहीं मिली है। 22 जुलाई को माह जुलाई के मानदेय के भुगतान करने हेतु शासन द्वारा धनराशि अवमुक्त की गई परन्तु एक माह से ज्यादा समय व्यतीत होने के बाद भी नहीं मिल सका। मानदेय इस समस्या को लेकर कई बार बीएसए महोदय से वार्ता हुई वहीं श्री मान जिलाअधिकारी महोदय को भी अवगत कराया गया। उक्त बात संघ के प्रांतीय प्रवक्ता शिव श्याम मिश्र ने एक प्रेस नोट जारी कर कही उन्होंने कहा कि फिर भी समस्या का निराकरण नही हो सका सभी के आदेश निर्देश पर जिले के खंड शिक्षा अधिकारीयों की लापरवाही भारी पड़ रही है। और शिक्षा मित्र इस कोरोना काल में जिले पर धनराशि उपलब्ध होने के बाद भी पाई पाई को तरस रहा है,अब शिक्षा मित्र जिले की प्रभारी जिलाधिकारी का घेराव करने की तैयारी कर रहे हैं।मानदेय पी.एम.एम.एस. पोर्टल से भुगतान होना है डेढ़ महीने में जिले के खंड शिक्षा अधिकारियों ने जिले को जो डाटा उपलब्ध कराया है। वह भी ग़लत निकला सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी ने बताया इस डाटा पर मानदेय भुगतान नहीं किया जा सकता है विकास खंड मिहींपुरवा के अलावा किसी भी विकास क्षेत्र की सूचना मानक अनुसार नहीं है ऐसे मे सितम्बर मे भी मानदेय नही मिलता दिख रहा है इस स्थिति में उतर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिला मीडिया प्रभारी दुर्गेश चन्द श्री वास्तव ने उग्र आन्दोलन की चेतावनी दी है।

About CMD NEWS

Check Also

Coronavirus- कोरोना वायरस के 25,000 नए केस से हड़कंप, स्वास्थ्य मंत्री ने जारी की एडवाइजरी, क्या फिर लौट रही महामारी?

दक्षिण पूर्व एशियाई देश सिंगापुर में कोरोना वायरस एक बार फिर से फैल रहा है। …

Leave a Reply