Breaking News
Home / Uncategorized / BREAKING NEWS / बाढ़ से मृत हुए नागरिकों के परिवारजनों को मिले दस दस लाख : के के ओझा
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

बाढ़ से मृत हुए नागरिकों के परिवारजनों को मिले दस दस लाख : के के ओझा

सदर तहसील संवाददाता स्नेह शुक्ला की रिपोर्ट

बहराइच । जनपद में व्याप्त बाढ़ की विभीषिका एवं कोविड 19 से पीड़ित मरीजों के खाने में भ्रष्टाचार को लेकर महसी के पूर्व विधायक के के ओझा के नेतृत्व में सपाइयों ने कलेक्ट्रेट पहुँचकर राज्यपाल को सम्बोधित छह सूत्रीय मांगपत्र उपजिलाधिकारी सदर को सौंपा और जांच कराने की मांग की ।
सपाइयों का आरोप है कि मांगपत्र सौंपने पहुँचे पूर्व महसी विधायक के के ओझा नि0 छात्रसभा जिलाध्यक्ष नन्देश्वर नन्द यादव पूर्व जिलाध्यक्ष प्रबुद्ध सभा हर्षित त्रिपाठी कल्लू अंसारी को घण्टों खड़ा रखा गया जिससे नाराज सपा कार्यकर्ता जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गए और सरकार विरोधी नारेबाजी करने लगे । लगभग घण्टे भर बाद जब प्रशासन को सूचना मिली तो आनन फानन में उपजिलाधिकारी सदर ने मौके पर पहुँच ज्ञापन लिया ।
पूर्व विधायक के के ओझा ने कहा कि महसी सहित पूरा जनपद बाढ़ की विभीषिका से त्रस्त हैं । घाघरा की कटान से लाखों लोग बेघर हो गए हैं लेकिन योगी सरकार के अधिकारी कोरोना महामारी की आड़ में लूट खसोट में व्यस्त हैं । ओझा ने महसी के बरुहा बेहड़ गोलागंज समदा में बाढ़ से मृत हुए नागरिकों के परिवारजनों को दस दस लाख की आर्थिक सहायता की मांग की ।
नि0 छात्रसभा जिलाध्यक्ष नन्देश्वर नन्द यादव ने कहा कि योगी सरकार वैश्विक महामारी कोरोना को अवसर बनाकर भ्रष्टाचार में संलिप्त है । जिले में कोरोना मरीजों को घटिया खाना देकर उसमें भी भ्रष्टाचार किया जा रहा है । कहा कि हॉटस्पॉट के नाम पर सिर्फ घोटाला किया जा रहा है । योगी सरकार नियंत्रण में फेल साबित हुई है ।

 

About CMD NEWS UP

Check Also

अयोध्या: धड़ल्ले से कोटेदार कर रहे घटतौली, कोटेदार के रवैए से जनता त्रस्त! 

राशन घटतौली का मामला आया सामने   7यूनिट की जगह कार्ड धारकों को मिल रहा …

Leave a Reply