Breaking News
Home / World / प्रमुख खबरें / शासन के शख्त निर्देषों के बावजूद सड़कों को नहीं कराया जा सका गड्ढा मुक्त
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

शासन के शख्त निर्देषों के बावजूद सड़कों को नहीं कराया जा सका गड्ढा मुक्त

सुनीलतिवारी
ब्यूरोचीफ गोण्डा

इटियाथोक गोंडा-
प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने सभी शहरी नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों का मरम्मत व गड्ढा मुक्ति का कार्य संबंधित विभाग को बीते 30 नवंबर तक हर हाल में पूरा कराए जाने का फरमान सुनाया था। बावजूद संबंधित विभाग के जिम्मेदारों द्वारा आदेश को ताक पर रखकर फरमान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। लोक निर्माण विभाग की उदासीनता एवं लचर कार्यशैली की वजह से समय अवधि पूरी होने के बावजूद भी मुख्यमंत्री के गड्ढा मुक्त सड़कों के फरमान को अभी तक पूर्णतया अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका है।। विभागीय जिम्मेदारों की लापरवाही के कारण गोंडा जिले के सदर तहसील अंतर्गत विकासखंड इटियाथोक में आज भी दर्जनों सड़कें ऐसी हैं जो अति जर्जर और बदहाल स्थिति में है। जिन पर वाहनों का चलना तो दूर पैदल चलना भी दूभर हो गया है।इटियाथोक बाजार से खरगूपुर बाजार जोडने वाली सड़क पूर्णतया क्षतिग्रस्त हो गई है।जगह-जगह गड्ढों की भरमार है।सड़क के पत्थर टूट कर पटरियों के दोनों तरफ बिखरे हुए हैं जो आए दिन दुर्घटनाओं का सबब बनते हैं।यही हाल आर्य नगर से भवानिया पुर चौराहे को जोडते हुए महाराजगंज बजार तक जाने वाली सड़क का भी है जो पूरी सड़क बड़े-बड़े गड्ढों में तब्दील हो गई है।राहगीरों को उक्त सड़क से यात्रा करने पर ढेर सारी दुश्वारियां झेलनी पड़ती है। बलरामपुर मुख्य मार्ग से करुआपारा गांव होते हुए खरगूपुर रोड को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग की स्थिति भी खस्ताहाल है। जनता इंटर कॉलेज से बिरमापुर गांव को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग की हालत भी अति दयनीय बनी हुई है।रुद्रापुर प्राथमिक विद्यालय से विसुही नहर पुल और विसुही नहर पुल से होते हुए कर्मडीह कला गांव को जोड़ने वाला संपर्क मार्ग भी पूरी तरह टूट कर बिखर चुका है।विभागीय अधिकारी इन सभी मार्गों को गड्ढा मुक्त कराने में निष्क्रियता दिखा रहे हैं विभागीय अधिकारियों के निष्क्रियता और उदासीनता का खामियाजा ग्रामीण जनता को भुगतना पड़ रहा है।

About cmdnews

Check Also

दा हेल्पिंग हैण्ड संस्था कतर्नियाघाट मे वन्य जीव संघर्ष रोकने के साथ महिलाओं को बनायेगी स्वावलम्बी

रिपोर्ट- विवेक श्रीवास्तव कार्यालय संस्थापक ने एफडी से मुलाकात कर कतर्नियाघाट में कार्य करने पर …

Leave a Reply