Breaking News
Home / CMD NEWS E-NEWSPAPER / सीतापुर:उच्च अधिकारियों की अनदेखी के कारण घोटालेबाज अधिकारियों के हौसले बुलंद।
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

सीतापुर:उच्च अधिकारियों की अनदेखी के कारण घोटालेबाज अधिकारियों के हौसले बुलंद।

उच्च अधिकारियों की अनदेखी के कारण घोटालेबाज अधिकारियों के हौसले बुलंद।

रिपोर्ट,अरविंद अवस्थी

सीतापुर।।  उच्च अधिकारियों की अनदेखी के कारण बीजेपी सरकार मे बढते हुए भरष्टाचार मे लुप्त अधिकारी सरकारी पैसे मे घोटाला करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे यह सब प्रकरण देखते हुए भी उच्च अधिकारी मूकदर्शक बने हुए बैठे हुए हैं।
सकरन सीतापुर
यह पूरा मामला उत्तर प्रदेश के जनपद सीतापुर की विकासखंड सांडा सकरन की ग्राम पंचायत तार पारा का है जहां पर उच्च अधिकारियों ने इस सुथरी बीजेपी सरकार के दामन पर एक बदनुमा दाग लगाने का काम किया है। जहां पर देखो वही घोटाले पर घोटाला दिखाई पड़ रहा है लेकिन जिन कार्यों में घोटाला किया गया वह कार्य भी आज तक सम्पन्न नहीं है अब हमारी लेखनी इशारा कर रही है ग्राम पंचायत तारपारा की ओर जो कि जिला मुख्यालय सीतापुर से लगभग 40-45 ,किलोमीटर की दूरी पर ग्राम पंचायत तारपारा मे करीब 7 वर्ष पूर्व मे एक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ऐनम सेंटर का निर्माण किया गया था 7 वर्ष पूर्व मे बने हुए ऐनम सेंटर की किस्मत जो कि आज तक अपनी बदनशीबी पर आशू बहा रहा है वाह रे ऐनम सेंनटर की किस्मत जिसका अभी उदघाटन व संचालन तक नहीं कराया गया जो कि आज भी अपनी बदहाली पर आशू बहा रहा है जिसका कारण उच्च अधिकारियों की अनदेखी सूझबूझ का नतीजा है जो कि आमजनता को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं इमरजेन्सी सेवा के लिए 12-15 किलोमीटर की दूरी तय करनीं पडती हैं कभी कभी समय पर इलाज न मिल पाने से लोग बड़े से बड़े हादसों का सिकार हो जाते हैं लेकिन इन घोटाले बाज अधिकारियों पर कोई भी फरक नहीं पडता यदि किसी भी अधिकारी से इस ऐनम सेंटर के बारे मे बात किया जाता हैं तो कहतें हैं अब जानकारी मिली है मौका देखकर उचित कार्यवाही की जायेगी करीब 7 सालों से बने इस स्वास्थ्य केन्द्र ऐनम सेंटर के नाम कार्रवाई ही होती आयी है 7 वषों से बना यह ऐनम सेंटर जिसका अभी तक उद्घाटन भी नहीं किया गया जो कि अब काफी जरजर हो चला हैं उच्च अधिकारियों की मिलीभगत से यह एनम सेंटर अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है ग्राम पंचायत तार पारा के एनम सेंटर की अभी तक किसी भी अधिकारी ने सुध तक नहीं ली जब इसको यूं ही बदहाली की हालत में रखना था तो इसे बनवाया ही क्यों गया इससे साफ जाहिर होता है की उच्च अधिकारियों की मिलीभगत से एनम सेंटर स्थापित तो करा दिया गया लेकिन काफी पैसों का बंदरबांट कर लिया गया यह एक जांच का विषय बना हुआ है समय रहते यदि इन घोटालेबाज अधिकारियों के नाक में प्रशासन की नकेल नहीं डाली गई तो घोटाले में शायद जा सकती है बीजेपी की सरकार अभिन्न घोटालेबाज अधिकारियों के कारनामे ना तो आंखों से देखे जा रहे हैं ना कानों से सुने जा रहे हैं और ना लेखनी से लिखा भी जा रहा फिर भी मैंने काफी कोशिशों के बावजूद लिख रहा हूं अब देखना यह है की उच्च अधिकारियों के चलते इस प्रकरण पर क्या कार्यवाही होगी ।

About Anuj Jaiswal

Check Also

उपजिलाधिकारी को भेंट किया कैलेंडर

रिपोर्ट आशीष सिंह उपजिलाधिकारी को भेंट किया कैलेंडर सिरौलीगौसपुर,बाराबंकी 21 फरवरी 2024, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *