Breaking News
Home / CMD NEWS E-NEWSPAPER / गोपालराम गहमरी साहित्य सेवक सम्मान 2021 से सम्मानित किये गए अयोध्या पुलिस के चर्चित दारोगा रणजीत यादव।
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

गोपालराम गहमरी साहित्य सेवक सम्मान 2021 से सम्मानित किये गए अयोध्या पुलिस के चर्चित दारोगा रणजीत यादव।

गोपालराम गहमरी साहित्य सेवक सम्मान 2021 से सम्मानित किये गए अयोध्या पुलिस के चर्चित दारोगा रणजीत यादव।

अंकुर पांडेय | CMD NEWS

अयोध्या।।  एशिया के सबसे बड़े गाँव गहमर में हुए सम्मानित
जनपद अयोध्या के कोतवाली अयोध्या अन्तर्गत नयाघाट में नियुक्त साहित्यकार, समाजसेवी युवा सब इंस्पेक्टर रणजीत यादव ‘क्षितिज’ को उनकी साहित्यिक उपलब्धियों के लिए एशिया के सबसे बड़े गाँव गहमर जनपद गाजीपुर में प्रसिद्ध जासूसी उपन्यासकार गोपालराम गहमरी की स्मृति में साहित्य सरोज पत्रिका एवं धर्मक्षेत्र द्वारा 7वें वर्ष आयोजित तीन दिवसीय (24 दिसम्बर से 26 दिसबंर तक) “गोपालराम गहमरी साहित्यकार सम्मेलन एवं सम्मान समारोह” गहमर इंटर कॉलेज गाजीपुर के प्रांगण मे जमानिया की विधायक श्रीमती सुनीता सिंह, हास्य व्यंग्य के हस्ताक्षर व प्रसिद्ध साहित्यकार सुभाष चन्दर, हिंदी निदेशालय दिल्ली के सहायक निदेशक दीपक पांडेय और वृक्षमित्र नाम से विख्यात सुनील दुबे द्वारा प्रशस्ति पत्र और मां कामख्या की चुनरी व नारियल प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस शानदार सम्मेलन और सम्मान कार्यक्रम का आयोजन वरिष्ठ साहित्यकार अखंड गहमरी द्वारा किया गया। भारत में जासूसी उपन्यास के जनक गोपालराम गहमरी की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में प्रख्यात व्यंगकार सुभाषचन्दर दिल्ली,फिल्ममेकर प्रबद्धघोष पुणे,अभिनेता विजयमिश्र दानिश,दीपक पाण्डेय सहायक शिक्षा निदेशक दिल्ली,डॉ0 पूनम सिंह, डॉ0 इंदुवीरेन्द्रा विभागाध्यक्ष जामिया मिलिया विश्वविद्यालय दिल्ली,डॉ0बाँकाबहादुर रंगकर्मी पठानकोट,मेजर शक्तिराज हरियाणा,गायिका अंजलिपटेल नेपाल,सन्तोषशर्मा शान हाथरस ,उमेश पाठक ,अविनाश तिवारी बिहार, रणविजय सिंह सोमवंशी,अनिल अनिकेत,आरबी यादव,विनोद वियोगी हरदोई ,शालुसिंह सीतापुर सहित कई प्रान्तों के नामचीन कवि, कवियत्री, साहित्यकार,अभिनेता, समाजसेवी मौजूद रहे। इस अवसर पर आनंद कुशवाहा की रचना “बेटियाँ बड़ी हो रही हैं!” सतीश चंद्र श्रीवास्तव कृत लघुकथा संग्रह हाथी के दाँत का विमोचन में किया गया। इस दौरान कहानी,लघु कथा,छंदमुक्त कविता,आदि पर कार्यशालाएं और शार्ट फ़िल्मों का प्रदर्शन भी किया गया। इस अवसर पर सभी लोगों को गंगा स्नान एवम मां कामाख्या के दर्शन का भी सौभाग्य प्राप्त हुआ। आज़मगढ़ के एक छोटे से गाँव भदसार के निवासी रणजीत यादव द्वारा लिखित सामाजिक संदेश पर आधारित कहानियों पहली मुलाकात, जिम्मेदारी,भयानक डर से मौत,इंतजार मां का, वनदेवी का चश्मा, भूरा-बंदर, बड़े घर की बहू इत्यादि अनेक पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशित होने के साथ आकाशवाणी लखनऊ व फैज़ाबाद के रेडियों केंद्र प्रसारित होती रहती हैं। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) वाराणसी से दर्शनशात्र विषय मे स्नातकोत्तर,टीडी पीजी कॉलेज जौनपुर से स्नातक उपाधि धारक रणजीत रक्तदान, पौधरोपण, नशामुक्ति,शिक्षा और सुरक्षा के प्रति जागरूकता, गरीब असहायों की मदद करना जैसे सामाजिक कार्यों के लिए भी पहचाने जाते हैं। इन्होंने सेंट थॉमस इंटर कॉलेज जौनपुर से हाइस्कूल और इंटरमीडिट परीक्षा उत्तीर्ण किया है।जनपद अयोध्या के निवासी प्यार से बुलाते हैं इन्हें सुपरकॉप। नेशनल इकॉनिक पर्सनालिटी अवार्ड दिल्ली,खाकी सम्मान कानपुर, नंदीग्राम रत्न सम्मान और अयोध्या रत्न सम्मान अयोध्या,समाजसेवा सम्मान2021 लखनऊ, सहकार सम्मान गाजीपुर,इत्यादि सम्मानों से सम्मानित किया जा चुके रणजीत यादव को उनके फेसबुक पेज तथा यू ट्यूब रंजीत सुपरकॉप और ट्वीटर एकाउंट @आर सुपरकॉप पर भी फॉलो कर सकते हैं। गर्मी के मौसम में बेजुबानों के लिए ‘थोड़ा सा दाना थोड़ा पानी’ मुहिम इनके द्वारा का प्रत्येक वर्ष चलाया जाता है।

About Anuj Jaiswal

Check Also

हमारा आंगन हमारे बच्चे कार्यक्रम बी आर सी म्याऊँ पर संपन्न।

रिपोर्ट  हरि शरण शर्मा व्यूरोचीफ़ हमारा आंगन हमारे बच्चे कार्यक्रम बी आर सी म्याऊँ पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *