Home / World / प्रमुख खबरें / श्रावस्ती- भगवानपुर भैसाही का पंचायत भवन में खंडहर में तब्दील हो गया
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

श्रावस्ती- भगवानपुर भैसाही का पंचायत भवन में खंडहर में तब्दील हो गया

मनोज कुमार CMD NEWS

श्रावस्ती.. सरकार भले ही ग्रामीणों में सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रयास करें लेकिन जिम्मेदार उसमें पलीता लगाने से पीछे नहीं है वषाॆ से ग्राम पंचायत भगवानपुर भैसाहीमें बनाया गया पचायत भवन देख रेख के अभाव में खंडहर होते जा रहे हैं विकास क्षेत्र जमुनहा के ग्राम पंचायत भगवानपुर भैसाही में एक दशक पहले पाया गया पंचायत भवन खंडहर में तब्दील हो गया भवन में दो कमरों के साथ ही एक बड़ा हाल प्रसाधन केन्द्र साथ ही चारों ओर बाउंड्रीवाल बनवाकर गेट भी लगवाया गया था भवन का निर्माण का उद्देश्य था कि प्रधान व सचिव भवन में बैठकर लोगों के पंचायत स्तर के काम निपटायेगे और खुली बैठक कर विकास योजनाओं को गति प्रदान करेंगे ग्राम पंचायत निधि से इस भवन का निर्माण तो कर दिया गया लेकिन देख रेख के अभाव में बदहाल होकर खंडहर में तब्दील होकर बदल गया खिड़कियां व दरवाजे गायब हो गये हैं परिसर में अब झाड उगे हुए हैं और छुट्टे मवेशियों का जामावडा रहता है वही रात को अराजक तत्वों को भी बनी रहती है एक ओर सरकार पंचायत को हाईटेक बनाने की बात कह रही है पंचायत सहायक की नियुक्ति कर आनलाइन कामों को पंचायत में ही निपटाने की कवायद भी की गई है लेकिन भगवानपुर भैसाही का पंचायत भवन अपनी बदहाली पर आसूं बहा रहा है लोगों ने बताया कि निर्माण के बाद एक बार भी पंचायत भवन में बैठक नहीं हुई है और गाव के एक लोग पंचायत भवन में भूसा रखा हुआ है और पूरी तरह से पंचायत भवन पर कब्जा बना रखा है जिस ग्राम प्रधान भी अपना ध्यान नहीं दे रहे हैं की जो ग्रामीण पंचायत भवन पर कब्जा बनाये हुए हैं मिली जानकारी के अनुसार बताया गया है कि पंचायत भवन से सटा कर दीवार भी उठा दी गई है जिस पर प्रधान देख रेख को नजरअंदाज कर रहे हैं पंचायत भवन पूरी तरह से जर्जर हो चुका है ग्रामीण अपना कब्जा भी बनाये हुए हैं!

About cmdnews

Check Also

बहराइच- अभिभावक ने सरकारी स्कूल के व्यवस्था की खोल दी पोल तो मिली धमकी, क्या होगी लापरवाहों पर कार्यवाही- VIDEO

रिपोर्ट- विवेक श्रीवास्तव कार्यालय बहराइच। गाँव स्तर पर सरकारी विद्यालय की व्यवस्था दिन प्रति दिन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *