Breaking News
Home / Uncategorized / स्वास्थ्य महकमे के अधिकारियों को डीएम का अल्टीमेटम
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

स्वास्थ्य महकमे के अधिकारियों को डीएम का अल्टीमेटम

गोंडा: एचईओ पण्डरी कृपाल को हटाने तथा पूर्व चिकित्सा अधीक्षक इटियाथोक के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के आदेश निरीक्षण के दौरान मिली खामियों से नाराज डीएम के आदेश पर तीन कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस मनरेगा में गड़बड़ किया तो ग्राम प्रधान, सचिव व कार्य प्रभारी जाएगें जेल-डीएम डीएम मार्कण्डेय शाही ने स्वास्थ्य महकमे के जिम्मेदार अधिकारियों को अन्तिम चेतावनी देते हुए कहा है कि सुधार कर लिया जाय अन्यथा कड़े एक्शन लेने से वे पीछे नहीं हटेगें। स्वास्थ्य सेवाओं में सतत सुधार के दृष्टिगत डीएम मार्कण्डेय शाही का स्वास्थ्य केन्द्रों पर भ्रमण जारी है। बुधवार को डीएम ने सीएमओ के साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पण्डरीकृपाल व इटियाथोक तथा ब्लाक इटियाथोक का औचक निरीक्षण किया।             सीएचसी पण्डरीकृपाल में निरीक्षण के दौरान डीएम ने वहां पर तैनात स्वास्थ्य शिक्षा सूचना अधिकारी को तत्काल हटाने तथा हेल्प डेस्क पर पल्स आॅक्सीमीटर व सैनिटाइजर न मिलने तथा परिसर में गन्दी मिलने पर सीएचसी अधीक्षक को कड़ी फटकार लगोत हुए  कारण  बताओे नोटिस जारी करने के आदेश सीएमओ को दिए हैं। उपस्थिति रजिस्टर चेक करने पर ब्लाक एककाउन्ट मैनेजर रोहित शर्मा दो दिन से बिना सूचना के अनुपस्थित मिले। डीएम ने बैम का मानदेय बाधित करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी करने के आदेश सीएमओ को दिए हैंर्। िडलीवरी रजिस्टर चेक करने पर पाया गया कि रजिस्टर में मरीजों का बैंक खाता, आधार कार्ड व अन्य सूचनाएं अपडेट नहीं हैं। डीएम ने ओटी में तैनात स्टाफ नर्स प्रतिभा मिश्रा तथा अंजनी श्रीवास्तव का मानदेय बाधित करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी करने के आदेश दिए हैं। जननी सुरक्षा सुरक्षा योजना तथा आशाओं के मानदेय का भुगतान के बारे में जानकारी ली  तथा एक सप्ताह के अन्दर शत-प्रतिशत भुगतान सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं।             सीएचसी पण्डरीकृपाल का निरीक्षण करने के बाद डीएम सीधे ब्लाक इटियाथोक कार्यालय पहंुचे। वहां पर परसिर में झाड़िया मिलने पर डीएम ने बीडीओ को सख्त निर्देश दिए कि दो दिन के अन्दर ब्लाक परिसर की साफ-सफाई सुनिश्चित कराएं। जर्जर भवनों की मरम्मत तथा रंगाई-पुताई कराने के निर्देश दिए। ब्लाक परिसर में ही 10 वर्ष पहले बने स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना भवन के निरीक्षण के दौरान ज्ञात हुआ कि कार्यदायी संस्था द्वारा अभी तक भवन हैंडओवर नहीं किया गया है। डीएम ने आदेश दिए कि कार्यदायी संस्था तथा ठेकेदार को नोटिस दी जाय। वहां पर डीएम ने बीडीओ कक्ष, मनरेगा कक्ष, एपीओ कक्ष सहित अन्य पटलों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद डीएम ने ब्लाक कैम्पस में ही बने मीटिंग हाल में पंचायत सचिवों के साथ मीटिंग की। मीटिंग में डीएम ने सभी सचिवों से पूछा कि क्या उनके द्वारा ग्राम प्रधानों को सम्बोधित पत्र सभी ग्राम प्रधानों तक पहुंचा दिया गया है अथवा नहीं। बैठक में डीएम ने निर्देश दिए कि इटियाथोक में दो एएनएम सेन्टर हैं, जिनका जीर्णोद्धार तथा सुन्दरीकरण मनरेगा कन्वर्जेन्स से कराने के लिए इस्टीमेट हर हाल में आगामी शनिवार तक तैयार कर लें। उन्होंने पंचायत सचिवों, एपीओ तथा तकनीकी सहायकों को खुले शब्दों में आगाह किया है कि सिर्फ अनुमन्य मदों में ही धनराशि व्यय की जाएगी तथा फर्जी कार्य का भुगतान यदि कहीं भी हुआ तो सम्बन्धित ग्राम प्रधान, सचिव, कार्य प्रभारी सहित अन्य सभी सम्बन्धित जिम्मेदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि मनरेगा में 60ः40 का रेशियो प्रत्येक दशा में मेनटेन किया जाय। डीएम ने पंचायत सचिवों को संचारी रोग नियंत्रण अभियान तथा दस्तक अभियान में भी बताया तथा सहयोग के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि पंचायत भवन, सामुदायिक शौचालय, एएनएम सेन्टर, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा प्राइमरी व जूनियर स्कूलों में प्राथमिकता के आधार पर काम कराने के लिए ध्यान केन्द्रित करें।               ब्लाक का निरीक्षण करने के बाद डीएम ने सीएचसी इटियाथोक का निरीक्षण किया। वहां पर सीएचसी अधीक्षक द्वारा डीएम को बताया गया कि पूर्व सीएचसी अधीक्षक डा0 श्वेता त्रिपाठी द्वारा आईडी पासवर्ड नहीं दिया जा रहा है जिसके कारण आशाओं के भुगतान के साथ ही प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना व आशा संगिनियों को मानदेय का भुगतान नहीं हो पा रहा है। इससे नाराज डीएम ने वर्तमान में रूपईडीह सीएचसी पर तैनात पूर्व सीएचसी अधीक्षक इटियाथोक के खिलाफ विभागीय कार्यवाही प्रारम्भ करने तथा सरकारी योजनाओं में अड़ंगा लगाने के आरोप में कार्यवाही शुरू करने के आदेश सीएमओ को दिए हैं। परिसर में झाड़िया मिलने पर डीएम ने सीएचसी प्रभारी कोे निर्देश दिए कि वे बीडीओ से समन्वय बनाकर जल्द से जल्द परिसर की साफ-सफाई सुनिश्चित कराएं। इसके अलावा सीएचसी इटियाथोक के लैब असिस्टेन्ट उमेश तिवारी की सम्बद्धता तत्काल समाप्त करते हुए वापस सीएचसी इटियाथोक भेजने के निर्देश दिए हैं।                 निरीक्षणों के दौरान सीएमओ डा0 आर0एस0 केसरी, बीडीओ पण्डरी कृपाल/प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर आत्रेय मिश्रा, बीडीओ इटियाथोक पन्ना लाल, एडीओ विकास मिश्रा, ओएसडी शिवराज शुक्ला व अन्य उपस्थित रहे। ब्यूरो चीफ सुनील तिवारी गोंडा

About Sunil Kumar Tiwari

Check Also

Uppsc RO/ARO hindi set 2024

DocScanner 11-Feb-2024 7-30 pm 11 फरवरी 2024 को यूपीपीएससी आर ओ/ ए आर ओ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *