Breaking News
Home / Uncategorized /         गोण्डा-दिनांकः 15.03.2021 गोल्डेन कार्ड बनवाने में मनमानी पड़ी भारी, दो आरोग्य मित्रों की सेवा समाप्त 454 कॉमन सर्विस सेन्टरों की ब्लाक होगी आईडी, 80 को नोटिस तथा दो स्वास्थ्य कर्मियों को चेतावनी जारी करने के आदेश
[responsivevoice_button pitch= voice="Hindi Female" buttontext="ख़बर को सुनें"]

        गोण्डा-दिनांकः 15.03.2021 गोल्डेन कार्ड बनवाने में मनमानी पड़ी भारी, दो आरोग्य मित्रों की सेवा समाप्त 454 कॉमन सर्विस सेन्टरों की ब्लाक होगी आईडी, 80 को नोटिस तथा दो स्वास्थ्य कर्मियों को चेतावनी जारी करने के आदेश

स्वास्थ्य विभाग में डीएम मार्कण्डेय शाही का मिशन ऑपरेशन क्लीन जारी है। सरकार की गरीबों के लिए संचालित अति महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डेन कार्ड बनाने में मनमानी करने वाले दो स्वास्थ्य कर्मियों  सहित सीएससी प्रबंधक पर बर्खास्तगी की गाज गिरी है। डीएम मार्कण्डेय शाही ने विकासखण्ड मुजेहना के आयुष्मान आरोग्य मित्र वीरेन्द्र तिवारी तथा इटियाथोक के आरोग्य मित्र संजय प्रजापति की सेवा समाप्त कर दी है तथा पात्रों को गोल्डेन कार्ड बनाने में सहयोग न करने वाले 454 काॅमन सर्विस सेन्टरों का आईडी ब्लॉक करने व 80 कॉमन सर्विस सेंटरों के संचालकों को चेतावनी जारी करने तथा जिला प्रबन्धक सीएससी की सेवा समाप्ति की कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्ट्रेट सभागार में गोल्डेन कार्ड्स बनने की अद्यतन स्थिति की समीक्षा में ज्ञात हुआ कि 10 मार्च से प्रारम्भ हुए गोल्डेन कार्ड अभियान में अपेक्षित प्रगति नहीं हुई है तथा प्रथम चरण में लिस्टेड दो सौ काॅमन सर्विस सेन्टरों में से मात्र 120 केन्द्र संचालकों द्वारा सहयोग प्रदान किया गया। जबकि जनपद में कुल 654 काॅमन सर्विस सेन्टर हैं। गोल्डेन कार्ड बनाने में 454 सेन्टर संचालकों द्वारा बिल्कुल रूचि नहीं ली गई। डीएम ने रूचि न लेने वाले 454 केन्द्र संचालकों की आईडी ब्लॉक करने तथा 80 सेन्टर संचालकों को नोटिस जारी करने के आदेश दिए हैं तथा लाभार्थियों का कार्ड बनाने में सहयोग हेतु नियुक्त विकासखण्ड मुजेहना के आरोग्य मित्र वीरेन्द्र तिवारी तथा इटियाथोक के आरोग्य मित्र संजय प्रजापति की सेवा समाप्त करने के साथ ही लापरवाही बरतने पर काॅमन सर्विस सेन्टर के जिला प्रबन्धक सुनील तिवारी की भी सेवा समाप्त करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही शिथिल पर्यवेक्षण कार्य पर आयुष्मान योजना के जिला शिकायत निवारण प्रबन्धक शिवान्शु मिश्रा तथा जिला सूचना प्रबन्धक अंकित कुमार को चेतावनी जारी करने के आदेश दिए हैं। जिलाधिकारी ने सीएमओ को सख्त निर्देश दिए हैं कि गोल्डेन कार्ड बनने की रोजाना रिपोर्ट उन्हें उपलब्ध कराएं तथा अति महत्वाकांक्षी योजना में रूचि न लेने वाले वीएलई के खिलाफ कार्यवाही कराएं तथा आयुष्मान योजना के तहत ब्लाकों पर तैनात आरोग्य मित्रों की भी जवाबदेही तय करते हुए कार्यवाही करें। बैठक में सीएमओ डा0 अजय सिंह गौतम, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी गिरीश कुमार प्रजापति, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता, आयुष्मान प्रबन्धक संदीप, सीडीपीओ झंझरी धर्मेन्द्र कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे। ब्यूरो चीफ सुनील तिवारी गोंडा

About Sunil Kumar Tiwari

Check Also

Uppsc RO/ARO hindi set 2024

DocScanner 11-Feb-2024 7-30 pm 11 फरवरी 2024 को यूपीपीएससी आर ओ/ ए आर ओ का …

Leave a Reply